post बहस Archives - Workers Unity

भारत का आर्थिक संकट कुछ कह रहा है

By प्रकाश के रे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ऑक्सफ़ैम की रिपोर्ट ‘टाइम टू केयर’ का हवाला देते हुए मोदी

Read more

क्या मज़दूरों को गुलाम बनाने के लिए लाया जा रहा है एनआरसी? जानें इसका अर्थशास्त्र

By मुकेश असीम पूरे देश में नागरिकता पंजीकरण (NRC) के साथ ही नागरिकता कानून  में हालिया परिवर्तन ने भारतीय सामाजिक

Read more

क्या है झारखंड की जनता को नयी सरकार से उम्मीद?

By रूपेश कुमार सिंह 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक पांच चरणों में हुए विधानसभा चुनाव का परिणाम कल (23

Read more

क्या नई मज़दूर पीढ़ी उनके शिक्षक “कार्ल मार्क्स” को जानती है?

By अजीत एक समय था जब मार्क्सवाद मज़दूर वर्ग की मुख्य विचारधारा थी, पर ये कहना भी ठीक है कि

Read more

आखिर कब तक हम मज़दूर अकेले-अकेले लड़ते रहेंगे?

काफी समय से मंदी अथवा मंदी के बहाने बना कर फैक्ट्रियों में मज़दूरों की छंटनी की जा रही है। मारूती

Read more

मज़दूर नेताओं से ज़्यादा वोट हरियाणा चुनाव में नोटा पर पड़े, जमानत तक ज़ब्त

हरियाणा में विधानसभा चुनाव हुए और फिर से बीेजेपी की सरकार बन गई है। 21 अक्तूबर को यहां मतदान था

Read more

ट्रेड यूनियनों की चुप्पियां मज़दूरों के लिए ख़तरनाक हैं, इन्हें तोड़ना ही होगा

By अजीत सिंह वर्तमान समय में देश में आर्थिक संकट मंडरात जा रहा है। आम चुनावों से पहले विकास करती

Read more

एक मंत्री कहता है सरकारी नौकरियां नहीं, दूसरा कहता है सिर्फ दो बच्चों वालों को मिलेगी नौकरी

By लखमीचंद प्रियदर्शी असम में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनेवाल ने राज्य में एक नया कानून

Read more

मोदी सरकार करने जा रही ऐसा समझौता कि किसान और छोटे उत्पादक हो जाएंगे बर्बाद

By मुकेश असीम रीजनल कांप्रेहेंसिव इकोनॉमिक पार्टनरशिप यानी RCEP यानी क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी जिसे मुक्त व्यापार संधि भी कहते

Read more

मोदी के आर्थिक सलाहकार ने कहा, ‘मंदी से मज़दूर सस्ते हो गए अब लगाओ पैसे’

मंदी से चारो तरफ़ त्राहि त्राहि मची है, मज़दूर, बचतकर्ता आम आदमी, कर्मचारी और देश का हर नागरिक परेशान है

Read more