बीजेपी विधायक ने कहा- ‘इज्जत न मिले तो कर्मचारियों को जूतों से पीटो’

उत्तर प्रदेश के ललितपुर के बीजेपी विधायक राम रतन कुश्वाहा ने पार्टी कार्यकर्ताओं की एक सभा में कहा कि अगर सरकारी कर्मचारी अभी भी परेशान करें तो जूता उतारिए और मारिए।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, कुश्वाहा ने कार्यकर्ता अभिनंदन समारोह में कार्यकर्ताओँ से कहा, “अगर उत्तर प्रदेश सरकार के कर्मचारी एक-दो महीने में ठीक नहीं होते हैं, आपको इज़्ज़त नहीं देते, कार्यकर्ता का सम्मान नहीं करते हैं तो अपना जूता उतारिए और मारिए।”

विधायक के इस बयान वाला यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

इसमें वो ये कहते हुए सुनाई देते हैं, “बर्दाश्त करने की एक सीमा होती है और ये सपा-बसपा की मानसिकता के कर्मचारी, जैसा चुनाव के दौरान हमारे कार्यकर्ताओं को परेशान किया, वो अब सचेत हो जाएं। मैं जो कहता हूं उसे करने में चूकता नहीं हूं।”

अगर सरकारी कर्मचारी सपा और बसपा से जुड़ा हुआ है और आपको लगातार परेशान कर रहा है जैसा उसने चुनावों में किया था, आपको इनसे सावधान हो जाना चाहिए।”

कर्मचारी संगठनों ने विधायक के इस बयान की निंदा की है और माफ़ी मांगने की मांग की है।

सोशल मीडिया पर भी लोग विधायक की आलोचना कर रहे हैं और कह रहे हैं कि अगर कर्मचारियों को जूते मारेंगे तो प्रशासन कौन चलाएगा?

फ़ेसबुक पर एक यूज़र ने तंज किया है, “आखिर बीजेपी नेता ही क्यों अपमानजक भाषा का इस्तेमाल करते हैं, इन्हें कौन सही रास्ता दिखाएगा?”

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *