हरिद्वार सिडकुल में एक मज़दूर की करंट लगने से मौत

12 मई को हरिद्वार की सिडकुल की आरएसपीएल कम्पनी में एक मजदूर रोहित कुमार की करंट लगने से मौत हो गई।

विभिन्न ट्रेड यूनियनों एवं सामाजिक संगठनों ने कम्पनी के मजदूरों के हस्तक्षेप के बाद मृतक के परिवार को 10 लाख का मुआवज़ा और मृतक के दाह संस्कार के लिए 22 हजार रुपए तत्काल सहायता के लिए समझौता हुआ।

इसके अलावा परिवार के एक सदस्य को नौकरी, मृतक के पत्नी को पेंशन तथा 25 लाख बीमा व पीएफ आदि के भुगतान का लिखित में कम्पनी के लैटर पैड पर समझौता किया गया।

मृतक के परिवार के साथ अन्य यूनियन हुए एकजूट

मृतक परिवार के साथ आईटीसी की तीन यूनियन (फूड्स श्रमिक यूनियन, आईटीसी मजदूर यूनियन, प्रिंटिंग एवं पैकेजिंग मजदूर यूनियन)

इंकलाबी मजदूर केंद्र, भारतीय मजदूर संघ, भेल मजदूर ट्रेड यूनियन के अलावा आरएसपीएल

कम्पनी के दर्जनों मजदूर इसके लिए एकजुट हुए थे।

प्रबंधन को मजदूरों की ओर से मांग पत्र सौंपा गया

इसके अलावा आरएसपीएल कम्पनी के प्रबंधन को मजदूरों की ओर से एक मांग पत्र सौंपा गया।

जिसमें सभी स्थायी मज़दूरों को नियुक्ति पत्र, पहचान पत्र, कैन्टीन में 80 प्रतिशत छूट पर खाना, ड्रेस एवं जूते एवं सुरक्षा उपकरण देने की मांग की गई।

समझौते के बाद मृतक मजदूर की मौत पर 2 मिनट का शोक सभी संगठनों के पदाधिकारियों एवं मजदूर साथियों की ओर से किया गया।

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *