आईसिन मज़दूर यूनियन के संघर्ष के दो साल

तीन मई 2019 को आईसीन ऑटोमोटिव हरियाणा मजदूर यूनियन के मजदूरों को संघर्ष करते हुए 2 साल पूरे होने पर दूसरी वर्षगांठ मनाई गई।

मई दिवस के मौके पर मजदूर सभा में यूनियन के अध्यक्ष श्री जसवीर सिंह व महासचिव अनिल शर्मा तथा उप प्रधान उमेश कुमार ने कहा कि कंपनी तथा श्रम विभाग व शासन प्रशासन ने मज़दूरों के ख़िलाफ़ श्रम कानूनों का उल्लंघन करते

हुए कार्रवाई की है।

इसके ख़िलाफ़ यूनियन लेबर कोर्ट में कंपनी के खिलाफ केस किया है जिसमें मज़दूर अपनी एकता के दम पर डट कर खड़े हैं।

उन्होंने उम्मीद जताई की एक दिन लेबर कोर्ट के द्वारा जीत हासिल करके कंपनी में वापस नौकरी पर मज़दूर जाएंगे।

ये भी पढ़ें :- माइक्रोमैक्स के 300 से अधिक श्रमिकों की गैरकानूनी छँटनी पर अदालत ने लगाई रोक

लोकसभा चुनाव के प्रत्याशियों के नाम खुला पर्चा

आइसिन यूनियन की तरफ से लोकसभा चुनाव के सभी प्रत्याशियों के नाम खुला पर्चा भी बांटा गया।

जिसमें मांग की गई है कि मजदूरों के मुद्दों को चुनाव की अपनी सभाओं में लोकसभा के सभी प्रत्याशी अपनी आवाज़ उठाएं।

यूनियन ने यह भी तय किया कि लोकसभा चुनाव के सभी प्रत्याशियों के नाम खुले पर्चे को रोहतक के आस-पास के गांवों में बाटेंगे तथा अपनी मांगों के बारे में बताएंगे।

आइसिन ऑटोमोटिव हरियाणा मज़दूर यूनियन की कंपनी द्वारा की गई गेट बंदी की वर्षगांठ और अंतर्राष्ट्रीय मई दिवस के उपलक्ष में विभिन्न जनसंगठनों व जनप्रतिनिधियों ने अपनी बात रखी और

हमारे इस संघर्ष में कंधे से कंधा मिलाकर साथ चलने की घोषणा की।

ये भी पढ़ें :- छह साल में तीन करोड़ खेतिहर मजदूर हुए बेरोजगार

फोटो साभार फेसबुक आइसिन ऑटोमोटिव हरियाणा मज़दूर यूनियन - Imt, रोहतक
फोटो साभार फेसबुक
विभिन्न संगठनों के लोग शामिल हुए

इसमें विभिन्न संगठनों से हरियाणा जन संघर्ष मंच, समता मूलक महिला संगठन, इंकलाबी मजदूर केंद्र, हरियाणा रोडवेज़, इंटक, DYFI, RWPI आदि संगठनो के लोग शामिल हुए।

अध्यक्ष जसवीर सिंह और महासचिव अनिल शर्मा ने कहा कि इस तरह की मज़दूर सभाएं तब तक करते रहेंगे जब तक हम अपने ऊपर अत्याचारों का कानूनी रूप से खंडन नहीं कर लेते हैं।

सभा में मई दिवस पर शिकागो में शहीद हुए मज़दूर साथियों को श्रद्धांजलि दी गई।

ये भी पढ़ें :- मज़दूर दिवस पर काम से निकाले गये डीयू सफाई कर्मचारी भूख हड़ताल पर

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *