मारुति में आठ दिन काम बंद, यूनियन ने कहा- हैप्पी शट डाउन

गुड़गांव औद्योगिक क्षेत्र में स्थित मारुति के प्लांटों में कंपनी ने आठ दिन के शट डाउन की घोषणा की है।

ये शट डाउन 27 दिसम्बर से लेकर 3 जनवरी तक चलेगा और इस दौरान मेंटनेंस,यूटिलिटी, काइजेन और क्वालिटी आदि का काम जारी रहेगा।

मारुति सुजुकी वर्कर्स यूनियन 1923 और मारुति सुजुकी मजदूर संघ ने एक ह्वाट्सऐप संदेश जारी कर ‘हैप्पी शट डाउन’ कहा है।

‘हैप्पी शट डाउन’

संदेश के अनुसार, “Happy Shut Down, जैसा कि आप सभी को ज्ञात है कि अपने तीनों प्लांट का शट-डाउन 27/12/19 से लेकर 03/01/20 तक है। इस दौरान हमारे अनेक साथी(maintinance/यूटिलिटी/काइजेन/क्वालिटीआदि) शट-डाउन कार्य के लिए कंपनी में आयेंगे।”

संदेश में आगे कहा गया है कि बाकी साथी अवकाश के दिनों में अपने अपने घर को जायेंगे। शट-डाउन के दिनों में सभी साथियों से अनुरोध है कि अपनी सुरक्षा का जितना ध्यान कंपनी परिसर में कार्य करते हुए रखना चाहिए उतना ही बाकी साथी भी घर जाते समय और ड्राइव करते हुए सडक सुरक्षा के प्रति जागरूक रहें।

इस संदेश में सुरक्षित ड्राईविंग करने, वाहन की रफ़्तार सामान्य रखने आदि की सलाह दी गई है।

अंत में कहा गया है, “इसी अनुरोध के साथ आपके और आपके परिवार को इस शट-डाउन अवकाश के दौरान खुशियों भरे पलों की कामना करते हैं। धन्यवाद।”

छंटनी की तलवार

हरियाणा के औद्योगिक इलाके में अधिकांश सब्सीडियरी कंपनियां मारुति जैसी बड़ी कंपनियों के ऑटो पार्ट्स बनाती हैं। इसलिए इससे जुड़ी कंपनियों में भी शट डाउन की घोषणा की गई है।

दूसरी ओर आर्थिक सुस्ती और ऑटो सेक्टर में गहरी मंदी के चलते कर्मचारियों की छंटनी हो रही है। खुद मारुति में बीते महीनों में हज़ारों वर्करों को निकाल दिया गया।

दोपहिया वाहन बनाने वाली कंपनी होंडा में मनमानी छंटनी के ख़िलाफ़ पिछले दो महीने से वर्कर धरने पर बैठे हुए हैं।

आंध्र में 3 मजदूरों ने की आत्महत्या, फांसी लगाने से पहले बनाया था वीडियो

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *