नौकरी से निकाले गए तो DU के 4500 प्रोफ़ेसरों ने वीसी ऑफ़िस पर किया कब्ज़ा

डीयू के 4500 प्रोफ़ेसरों ने वीसी हाउस पर कब्ज़ा कर लिया। 4 दिम्सबर, बुधवार को दोपहर वीसी से मिलने पहुंचे थे प्राध्यापक लेकिन वीसी अपना कार्यालय और आवास छोड़ककर भाग निकले।

28 अगस्त को वीसी ने निजीकरण करने वाला आदेश जारी किया था। आदेश में सभी एडहॉक टीचर्स की नौकरी ख़त्म कर दी गई।

10-10 सालों से पढ़ा रहे इन लोगों को नौकरी से निकाला जा रहा है। इनकी मांग है आदेश वापस लिया जाए और तुरंत परमानेंट किया जाए।

इस बारे में मोदी सरकार दोमुहां बात करती रही है। दोबारा सत्तासीन होने के बाद मोदी सरकार ने वादा किया था कि छह महीने में परमानेंट भर्तियां कर दी जाएंगी।

लेकिन मोदी सरकार में तीन तीन मंत्री बदल गए, कुछ नहीं हुआ।

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *